29 साल बाद महासंयोग रक्षाबंधन के मुहूर्त पर , जानिए शुभ मुहूर्त

29 साल बाद महासंयोग रक्षाबंधन के मुहूर्त पर , जानिए शुभ मुहूर्त

सावन माह के पूर्णिमा पर रक्षाबंधन का त्योहार मनाया जाता है । इस साल यह त्योहार सावन के आखिरी सोमवार यानी 3 अगस्त को मनाया जाएगा । इस साल रक्षाबंधन पर सर्वार्थ सिद्धि और आयुष्मान दीर्घायु का शुभ संयोग बन रहा है । यह रक्षाबंधन बहुत खास होने वाला है । ज्योतिषाचार्योंके अनुसार रक्षाबंधन पर ऐसा शुभ संयोग 29 साल बाद आया है ।

शुभ मुहूर्त :

3 अगस्त को भद्रा सुबह 9 बजकर 29 मिनट तक है । राखी का त्योहार 9 बजकर 30 मिनट से शुरु हो जाएगा । दोपहर 1 बजकर 35 मिनट से लेकर शाम 4 बजकर 35 मिनट तक बहुत ही अच्छा समय है । इसके बाद शाम को 7 बजकर 30 मिनट से लेकर रात 9.30 के बीच मे बहुत अच्छा समय है ।

कहते हज की रावण की बहन ने उसे भद्रा काल मे ही राखी बांध दी थी , इसलिए रावण का विनाश हो गया । राखी बांधने समय भद्रा नही होनी चाहिए इसका ध्यान रखे ।

त्यौहार पर महासंयोग :
रक्षाबंधन के त्योहार पर सर्वार्थ सिद्धि योग बन रहा है । इस सहयोग में सारी मनोकामना पूरी होती है । रक्षाबंधन के दिन बहुत अच्छे ग्रह नक्षत्रों का संयोग बन रहा है । इसके अलावा इस दिन आयुष्मान दीर्घायु योग है यानी भाई बहन दोनो की आयु लंबी हो जाएगी । 3 अगस्त को रक्षाबंधन के साथ साथ पूर्णिमा भी है । ऐसा संयोग बहुत कम आता है कि सोमवार के दिन पूर्णिमा आ जाए ।

इसके अलावा 3 अगस्त को चंद्रमा का श्रवण नक्षत्र है । मकर राशि का स्वामी शनि और सूर्य आपस मे समसप्तक योग बना रहे है । शनि और सूर्य दोनों आयु बढ़ाते है ,ऐसा संयोग 29 साल बाद आया है ।

दूर रहकर कैसे मनाए रक्षाबंधन :

भाई बहन अलग अलग रहकर भी रक्षाबंधन मना सकते है । कोरोना वायरस की वजह से कई भाई बहन रक्षाबंधन के त्योहार पर मिल नही पाएंगे । बहने वीडियो कॉल करके भाई को देखते हुए भगवान श्रीकृष्ण की तस्वीर सामने रखकर उन्हें भाई मानकर उन्हें सामने राखी रख दे तो रक्षाबंधन का फल मिल जाएगा ।

भाई ऑनलाइन वीडियो कॉल करके बहनो को आशीर्वाद दे दे । बहने श्रीकृष्ण को भोग लगाएं । इस योग में सभी 12 राशियों का भला होने वाला है । इस दिन आप जो भी मनोकामना रखकर कृष्ण जी के सामने राखी का त्योहार मनाएंगी वो सभी पूरी होंगी ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here